मुगल साम्राज्य का इतिहास हिंदी में || History of Mughal Empire in Hindi

बाबर

बाबर का जन्म का नाम जहीरूद्दीन मोहम्मद बाबर था। बाबर का जन्म 14 फरवरी 1483 ईस्वी को अंधीझान (उज़्बेकिस्तान) में हुआ था।

बाबर का राज्य काल बहुत छोटा था वह 20 अप्रैल 1526 से 26 दिसंबर 1530 तक राज किया

जहीरूद्दीन मोहम्मद बाबर की मृत्यु 26 दिसंबर 1530 ईसवी को मात्र 47 वर्ष की आयु में हो गई

हुमायूं

हुमायूं का बचपन का नाम नसीर उद्दीन मोहम्मद हुमायूं था। हुमायूं का जन्म 6 मार्च 1508 ईस्वी को हुआ था तथा हुमायूं की मृत्यु 27 जनवरी 1556 ईस्वी को मात्र 47 वर्ष की आयु में हो गई थी।

हुमायूं ने हुमायूं का मकबरा बनवाया था जबकि बाबर ने कुछ भी नहीं बनवाया था

शेर शाह सूरी

शेरशाह सूरी के जन्म का नाम फरीद खान था

उसका जन्म 1486 ईसवी में हुआ था

शेरशाह सूरी की मृत्यु 22 मई 1545 में हुई थी इसने मुगल साम्राज्य पर 5 वर्ष तक राज किया था

शेरशाह सूरी का राज्य काल 17 मई 1540 से 22 मई 1545 तक था

इस्लाम शाह सुरी

इस्लाम शाह सुरी का जन्म 1507 ईस्वी को हुआ था। इस्लाम शाह सूरी के बचपन का नाम जलाल खान था।

जलाल का राज्य का 27 मई 1545 से 22 नवंबर 1554 तक था

जलाल खान की मृत्यु 22 नवंबर 1554 को हुई थी

हुमायूं

आप सोच रहे होंगे की हुमायूं दोबारा कैसे आ गया तो मैं बताता हूं की हुमायूं ने मुगल साम्राज्य पर दो बार राज किया था जब वह शेरशाह सूरी से युद्ध हार गया था उसके बाद मैं अब काम चला गया था

हुमायूं का द्वितीय शासनकाल 24 फरवरी 1555 से 27 जनवरी 1556 तक था

अकबर ए आजम

अकबर के बचपन का नाम जलालुद्दीन मोहम्मद अकबर था।

अकबर का जन्म 15 अक्टूबर 1542 ईस्वी को हुआ था

मात्र 13 वर्ष की आयु में अकबर राज गद्दी पर बैठ गए थे क्योंकि पुस्तकालय में सीढ़ियों से गिरने से हुमायूं की मृत्यु हो गई थी जिस पर कुछ इतिहासकारों का कहना है जैसे लुढ़कते लुढ़कते हुमायूं ने शासन किया उसी प्रकार लुढ़कते लुढ़कते उसकी मृत्यु हो गई

अकबर का शासन काल 11 फरवरी 1556 से 27 अक्टूबर 1605 तक था

जहांगीर

अकबर के बाद अकबर का पुत्र जहांगीर गद्दी पर बैठा जिस के बचपन का नाम नूरदीन मोहम्मद सलीम था

सलीम का जन्म 31 अगस्त 1569 को हुआ था तथा 3 नवंबर 1605 ईस्वी को वह राजगद्दी पर बैठा

सलीम की मृत्यु 28 अक्टूबर 1627 को हुई थी

शाहजहां

शाहजहां के बचपन का नाम शहाबुद्दीन मोहम्मद खुर्रम था जिसका जन्म 5 जनवरी 1592 ईस्वी को हुआ था

शाहजहां को ताजमहल के निर्माता के नाम से जाना जाता है

शाहजहां ने 19 जनवरी 1628 से 31 जुलाई 1658 तक राज किया

शाहजहां की मृत्यु 22 जनवरी 16 से 66 ईसवी को हुई

अलामगीर

आलमगीर के बचपन का नाम मोइनुद्दीन मोहम्मद था जिसको हम औरंगजेब के नाम से भी जानते हैं औरंगजेब का जन्म 3 नवंबर 1618 ईस्वी को हुआ था तथा औरंगजेब की मृत्यु 3 मार्च 1707 ईसवी को हुई थी

औरंगजेब का शासनकाल 31 जुलाई 1628 ईस्वी से 3 मार्च 1707 ईसवी तक था

बहादुर शाह प्रथम

बहादुर शाह प्रथम का जन्म का नाम कुतुबुद्दीन मोहम्मद मुअज्जम था । बहादुर शाह का जन्म 14 अक्टूबर 1643 ईस्वी को हुआ था चाचा मृत्यु 27 फरवरी 1712 ईस्वी को हुई थी उस समय बहादुर शाह की आयु 68 वर्ष थी।

बहादुर शाह का शासनकाल 1707 ईस्वी से 27 फरवरी 1712 ईस्वी तक था

बहादुर शाह ने मराठों के साथ बस्तियां बनवाई तथा राजपूतों को शांत किया और पंजाब में सीखो से दोस्ती बढ़ाई।

जहांदार शाह

जहांदार शाह के बचपन का नाम माजुद्दीन जहंदर शाह बहादुर था

माजुद्दीन जहंदर शाह बहादुर का जन्म 9 मई 1661 ईस्वी को हुआ था तथा मृत्यु 12 फरवरी 1713 ईस्वी को हुई थी।

जहांदार शाह का शासनकाल 27 फरवरी 1712 ईस्वी से 10 जनवरी 1713 ईस्वी तक था।

फर्रुखसियार

फर्रूखसियर का असली नाम भी फर्रूखसियर ही था।

जिसका जन्म 20 अगस्त 1650 ईस्वी को हुआ था तथा मृत्यु 19 अप्रैल 1719 को हुई थी जिस समय उसकी आयु मात्र 33 वर्ष थी

फर्रूखसियर का शासनकाल 11 जनवरी 1713 इस विषय 28 फरवरी 1719 ईस्वी तक था

फर्रूखसियर ने 1717 में ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी को एक फरमान द्वारा बंगाल में शुल्क मुक्त व्यापार करने का अधिकार दिया था जिसके कारण पूर्वी ट्रक में उसकी ताकत बढ़ गई

रफी उल – दर्जत

रफी उल – दर्जत का असली

Leave a Reply